ताश के पत्तों की तरह बिखर गई इमारत, 10 मजदूर दबे, आवाज सुनकर दौड़े लोग
10 buildings shattered like cards, 10 workers buried, people rushing to hear their voices

ताश के पत्तों की तरह बिखर गई इमारत, 10 मजदूर दबे, आवाज सुनकर दौड़े लोग

मुंबई: महाराष्ट्र के भिवंडी में एक इमारत ताश के पत्तों की तरह बिखर गई, इमारत के मलबे के नीचे 10 लोग दबे हुए हैं। उन्हें बाहर निकालने का काम तेजी से किया जा रहा है। मौके पर फायर ब्रिगेड की 3 गाड़ियां पहुंची हैं। एनडीआरएफ और टीडीआरएफ दोनों टीमें ठाणे डिजास्टर रिलीफ फोर्स की टीम के साथ मिलकर राहत बचाव कार्य में जुटी हुई हैं। मलबा के नीचे दबे लोगों को निकालने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

जिस जगह ये इमारत गिरी है। वह भिवंडी के मानकोली इलाके के हरिहर कंपाउंड के अंतर्गत आता है। बिल्डिंग एक मंजिला थी। उसके नीचे गोदाम बना हुआ था, जिसमें करीब 10 मजदूर काम कर रहे थे। इमारत के गिरने के बाद मजदूर बाहर निकलने की कोशिश कर रहे थे लेकिन वह कामयाब नहीं हो पाए। ये हादसा आखिर कैसे हुआ। अभी तक इस बात की जानकारी नहीं मिल सकी है। मलबे के अंदर दबे मजदूरों को बाहर निकालने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। वहीं ठाणे निगम के अधिकारियों ने बताया कि फायर ब्रिगेड की 3 गाड़ियों के बाद अब एनडीआरएफ और टीडीआरएफ दोनों टीमों को मौके पर भेज दिया गया है। ठाणे डिजास्टर रिलीफ फोर्स की टीम को भी घटना स्थल पर भेजा गया है। मलबे में दबे मजदूरों को बाहर निकालने के लिए राहत बचाव का काम शुरू कर दिया गया है।