चमोली ग्लेशियर हादसे में 3 शव मिले, केंद्रीय मंत्री बोले- 2013 से भी ज्यादा असर
3 bodies found in Chamoli glacier accident, Union Minister said - more than 2013 impact

चमोली ग्लेशियर हादसे में 3 शव मिले, केंद्रीय मंत्री बोले- 2013 से भी ज्यादा असर

चमोलीः उत्तराखंड के चमोली जिले में ग्लेशियर फटने से बड़ी तबाही हुई है। चमोली जिले जोशीमठ में ग्लेशियर टूटने से धौलीगंगा नदी में बाढ़ आ गई। पानी तेज गति से आगे बढ़ रहा है। आसपास के इलाकों में बाढ़ का पानी फैलने की आशंका है, लिहाजा आसपास के इलाकों से लोगों को बाहर निकाला जा रहा है। इससे ऋषिगंगा प्रोजेक्ट को नुकसान पहुंचा है। जिसके बाद आईटीबीपी, एनडीआरएफ और एसडीआरजी की कई टीमें मौके पर पहुंचीं हैं।

आईटीबीपी के जवान बचाव कार्य में जुटे हुए हैं। इस बीच प्रशासन ने जानकारी दी है कि चमोली त्रासदी में करीब 150 लोग लापता हैं जबकि अभी तीन शव बरामद किए गए हैं। केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने बताया कि उत्तराखंड में ग्लेशियर टूटने के कारण ऋषिगंगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट क्षतिग्रस्त हुआ है और नदी का जल स्तर बढ़ने की सूचना मिली है. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी को इस संबंध में सहायता का आश्वासन दिया है, हम इस घटना पर लगातार नज़र बनाए हुए हैं।

श्रीनगर, ऋषिकेश और हरिद्वार में अलर्ट है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने घटना स्थल पर पहुंच स्थिति की जानकारी ली है। हर अपडेट जानने के लिए पेज रिफ्रेश करते रहें। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत से फोन पर बातचीत की। गुजरात के फंसे सभी यात्रियों को मदद मुहैया कराने और सुरक्षित जगह पर पहुंचाने के सिलसिले में बात की है।