उत्तराखंड में बड़ा हादसा, ग्लेशियर टूटने से से करीब 150 कर्मचारी लापता
Major accident in Uttarakhand, about 150 employees missing due to glacier breakdown

उत्तराखंड में बड़ा हादसा, ग्लेशियर टूटने से से करीब 150 कर्मचारी लापता

चमोलीः उत्तराखंड में इस वक्त की सबसे बड़ी खबर सामने आई है, जहां ग्लेशियर टूटने भारी तबाही हुई है और वहां कॉपर डैम पर काम कर रहे करीब 150 कर्मचारी लापता हो गए हैं। जानकारी अनुसार हादसा उत्तराखंड के चमेली में हुआ, यहां ग्लेशियर के टूटने के बाद अचानक बढ़े जल स्तर से ऋषि गंगा प्रोजेक्ट में कॉपर डैम टूट गया है। अधिकारियों को हवाले से जानकारी दी कि इस प्रोजेक्ट में काम कर रहे करीब 150 कर्मचारी लापता हैं। चमोली के जिलाधिकारी ने अधिकारियों को धौलीगंगा नदी के किनारे बसे गांवों में रहने वाले लोगों को बाहर निकालने का निर्देश दिया है।

चमोली पुलिस ने बताया कि तपोवन इलाके में एक ग्लेशियर के टूटने से ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट क्षतिग्रस्त हो गया है। अलकनंदा नदी के किनारे रहने वाले लोगों को जल्द से जल्द सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह दी जाती है। आईटीबीपी की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार, नदी किनारे बने कई मकान भी पानी में बह गए हैं। आईटीबीपी के जवान मौके की तरफ रवाना हो गए हैं। उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्वीट कर कहा है कि चमोली ज़िले से एक आपदा का समाचार मिला है। ज़िला प्रशासन, पुलिस विभाग और आपदा प्रबंधन को इस आपदा से निपटने की आदेश दे दिए हैं। किसी भी प्रकार की अफ़वाहों पर ध्यान ना दें । सरकार सभी ज़रूरी कदम उठा रही है।