कोलकाता में असदुद्दीन ओवैसी की रैली के लिए पुलिस ने इजाजत देने से किया इनकार
Police refused permission for Asaduddin Owaisi's rally in Kolkata

कोलकाता में असदुद्दीन ओवैसी की रैली के लिए पुलिस ने इजाजत देने से किया इनकार

कोलकाता: एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की पश्चिम बंगाल के कोलकाता में वीरवार को होने वाली रैली को पुलिस से अनुमति नहीं मिलने की वजह से रद्द कर दिया गया है। पार्टी के सूत्रों ने बताया कि ओवैसी को अल्पसंख्यक बहुल मेतियाब्रुज़ इलाके में रैली के जरिए बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी का प्रचार अभियान का आगाज़ करना था। 

एआईएमआईएम के प्रदेश सचिव जमीर उल हसन ने बताया कि पुलिस ने रैली के लिए उन्हें इजाजत नहीं दी। हसन ने बताया, “हमने इजाज़त के लिए 10 दिन पहले आवेदन दिया था, मगर आज हमें पुलिस ने सूचित किया कि वे हमें रैली करने की इजाज़त नहीं देंगे। हम टीएमसी के ऐसे हथकंडों के आगे झुकेंगे नहीं। हम चर्चा करेंगे और कार्यक्रम की नई तारीख बताएंगे।” कोलकाता पुलिस ने मामले पर टिप्पणी करने से इनकार दिया है। तृणमूल कांग्रेस के सांसद सौगत रॉय ने रैली के लिए इजाज़त नहीं मिलने में अपनी पार्टी की भूमिका से इनकार किया।

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के कार्यक्रम एक ही मार्ग पर होने की वजह से दोनों दलों के कार्यकर्ताओं के बीच बुधवार को संघर्ष हो गया। जिस रास्ते से भाजपा की परिवर्तन यात्रा निकल रही थी उसी मार्ग पर टीएमसी के नेता व कार्यकर्ता धरना दे रहे थे। रोड शो में हिस्सा ले रहे भाजपा के कार्यकर्ता सियालदह की ओर बढ़ रहे थे, तभी संघर्ष शुरू हो गया। दोनों पार्टियों के झंडों को फाड़ दिया गया तथा सड़क किनारे बाइकों और पुलिस की गाड़ियों को क्षतिग्रस्त किया गया। दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं ने एक-दूसरे पर इसका आरोप लगाया। भगवा दल के सूत्रों ने दावा किया कि टीएमसी के समर्थकों ने उन पर जूते और झाड़ू फेंकी और पुलिस पर हस्तक्षेप नहीं करने का आरोप लगाया।