बठिंडा में आवारा कुत्तों का आतंक, पांच साल की बच्ची को बुरी तरह से नोंचा, मौत
Terror of stray dogs in Bathinda, badly tortured five-year-old girl, death

बठिंडा में आवारा कुत्तों का आतंक, पांच साल की बच्ची को बुरी तरह से नोंचा, मौत

बठिंडाः शहर आज उस वक्त दर्दनाक हादसा हुआ, जब आवारा कुत्तों ने एक पांच की बच्ची को बुरी तरह से नोच डाला जिसके बाद बच्ची की उपचार के दौरान मौत हो गई। घटना सोमवार देर रात की है। बच्ची के माता-पिता एम्स में लेबर का काम करते हैं और यहीं रहते हैं। मृतक बच्ची की पहचान अदिति के रूप में हुई है।

बठिडा जिले के अंदर 8,986 बेसहारा पशु और 7,025 के लगभग स्ट्रे डॉग्स (आवारा कुत्ते) हैं। यह संख्या डिप्टी डायरेक्टर, पशु पालन विभाग से सूचना का अधिकार-2005 (आरटीआइ) के अधीन प्राप्त जानकारी के अनुसार है। बठिंडा में आवारा कुत्तों की लगातार बढ़ती जा रही संख्या को रोकने के लिए नगर निगम बेपरवाह है। सिविल सर्जन तेजवंत सिंह ढिल्लों के अनुसार जिला सिविल अस्पताल में आवारा कुत्तों के काटने से करीब 500 लोग हर माह उपचार के लिए पहुंचते हैं। निजी अस्पतालों में ऐसे केस पहुंचने की संख्या अलग से है।