किसान आंदोलन पर बोले राकेश टिकैत, कहा- जब तक कृषि कानून वापस नहीं लिए जाते, तब तक आंदोलन जारी रहेगा
Rakesh Tikait, who spoke on the peasant movement, said- the movement will continue till the agricultural laws are withdrawn

किसान आंदोलन पर बोले राकेश टिकैत, कहा- जब तक कृषि कानून वापस नहीं लिए जाते, तब तक आंदोलन जारी रहेगा

मुजफ्फरनगरः पिछले कई महीनों से दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन पर मुज्जफरनगर के रामराज कस्बे में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान बोलते किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि जब तक तीन नए कृषि कानून रद्द नहीं हो जाते, तब तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा।

राकेश टिकैत ने शनिवार को कहा कि किसानों की मांग है कि तीनों कृषि कानून पूरी तरह से वापस लिए जाएं और जब तक सरकार उनकी मांगे नहीं मानती, तब तक आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने इस मौके पर टैक्टर रैली को रवाना किया। उन्होंने बताया कि यह रैली उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के जिलों में जाएगी और 27 मार्च को गाजीपुर में किसानों के प्रदर्शन स्थल पर पहुंचेगी।

इस बीच, मुजफ्फरनगर से सांसद एवं केंद्रीय मंत्री संजीव बालयान ने कहा कि तीनों कृषि कानून किसानों के लिए लाभकारी हैं। उन्होंने कहा, ‘‘कृषि कानूनों के कारण यदि एक भी किसान की जमीन ली गई तो मैं संसद की सदस्यता से इस्तीफा दे दूंगा। ये कानून किसानों की इच्छा के मुताबिक ही लागू किए गए हैं।’’ उल्लेखनीय है कि नवंबर माह के अंत से दिल्ली की सीमाओं पर हजारों की संख्या में किसान केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।