मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर कथित हमले की रिपोर्ट से चुनाव आयोग संतुष्ट नहीं, चीफ सेक्रेट्री से मांगी और जानकारी
Election Commission not satisfied with report of alleged attack on Chief Minister Mamata Banerjee, sought more information from Chief Secretary

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर कथित हमले की रिपोर्ट से चुनाव आयोग संतुष्ट नहीं, चीफ सेक्रेट्री से मांगी और जानकारी

नई दिल्ली: नंदीग्राम निर्वाचन क्षेत्र के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद बुधवार को चुनाव प्रचार के दौरान अज्ञात लोगों द्वारा कथित तौर पर धक्का देने से गिरी मुख्यमंत्री ममता बैनर्जी के बायें पैर और कमर में चोट आने से चुनाव आयेाग ने चीफ सेक्रेट्री अलपन बंदोपाध्याय, विशेष पर्यवेक्षक अजय नायक और विशेष पुलिस पर्यवेक्षक विवेक दुबे से शुक्रवार शाम तक रिपोर्ट देने को कहा था। इससे पहले आज बंगाल पुलिस ने चुनाव आयोग को रिपोर्ट सौंपी लेकिन सूत्रों के मुताबिक़ चुनाव आयोग इस रिपोर्ट से संतुष्ट नहीं है।

सूत्रों ने बताया कि चुनाव आयोग ने रिपोर्ट में ओर ज्यादा विवरण मुहैया कराने को कहा है। उन्होंने बताया कि चीफ सेक्रेट्री से शनिवार शाम तक जानकारी मुहैया कराने को कहा गया है। चूंकि दोनों पर्यवेक्षक शुक्रवार को यात्रा पर थे इसलिए उन्होंने अपनी रिपोर्ट सौंपने के लिए शनिवार शाम तक का वक्त देने की मांग की है। इस बीच ममता बनर्जी को एसएसकेएम अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। अस्‍पताल प्रशासन ने बताया कि ममता का स्‍वास्‍थ्‍य अब बेहतर है।

अस्पताल के डॉक्‍टरों ने बताया कि उनके बार-बार अनुरोध के कारण उन्‍हें उचित निर्देशों के साथ डिस्‍चार्ज कर दिया गया है। 7 दिनों के बाद उनकी चोट की दोबारा जांच की जाएगी। अस्‍पताल से छुट्टी मिलने के बाद ममता बनर्जी को घर में आराम करने की सलाह दी गई है। सात दिन बाद डॉक्‍टर दोबारा उनकी चोट की जांच करेंगे।

अस्पताल के वुडबर्न ब्लॉक के बाहर मौजूद काफी संख्या में पार्टी कार्यकर्ताओं का बनर्जी ने अभिवादन किया। वह व्हीलचेयर पर बैठी हुई थीं और उनके बायें पैर में प्लास्टर लगा हुआ था। वह अपने वाहन से कालीघाट स्थित आवास के लिए रवाना हुईं। उनके भतीजा और डायमंड हार्बर के सांसद अभिषेक बनर्जी, पार्टी के सहयोगी और राज्य के मंत्री फरहाद हाकिम भी अस्पताल में मौजूद थे।