बंगाल में दिहाड़ी मजदूर की पत्नी को भाजपा ने बनाया अपना प्रत्याशी, पति के खाते में 1500 रुपए
In Bengal, BJP made daily wage laborer its candidate, Rs 1500 in husband's account

बंगाल में दिहाड़ी मजदूर की पत्नी को भाजपा ने बनाया अपना प्रत्याशी, पति के खाते में 1500 रुपए

कोलकाताः बंगाल में जहां चुनावों का बिगुल बज चुका है, वहीं पार्टियां अपने-अपने प्रत्याशी को चुनाव मैदान में जोरों शोर से उतार रही हैं। वहीं भाजपा ने बंगाल में एक ऐसी महिला को प्रत्याशी बनाया है जोकि दिहाड़ी मजदूर है और वह अपने पति के साथ दिहाड़ी मजदूरी पर काम करती है।

जानकारी अनुसार भाजपा ने बांकुरा जिले की सल्तोरा विधानसभा सीट से चंदना बाउरी नामक महिला को चुनाव मैदान में उतारा है। चंदना और उनके पति एक दिहाड़ी मजदूर हैं जो रोजाना सिर्फ 400 रुपए कमा पाते हैं। चंदना बाउरी ने सल्तोरा सीट से अपना नामांकन भरते समय चुनाव आयोग को जो शपथपत्र दिया है उसके अनुसार उसके खुद के बैंक खाते में सिर्फ 6335 रुपए हैं जबकि उनके पति के खाते में महज 1561 रुपए जमा हैं।

चंदना बाउरी के शपथपत्र के अनुसार उनकी कुल अचल संपत्ति 31985 रुपए है जबकि उनके पति श्रबण की कुल अचल संपत्ति 30311 रुपए है। भाजपा प्रत्याशी चंदना या उनके पति किसी तरह की कृषि जमीन के मालिक नहीं हैं और दिहाड़ी मजदूरी करके अपना परिवार चलाते हैं। जब चंदना के पति मजदूरी के लिए जाते हैं तो वह भी अपने पति के साथ हाथ बंटाती हैं। हालांकि चंदना अपनी पति से ज्यादा पढ़ी हुई है, उनके पति सिर्फ आठवीं पास हैं जबकि चंदना खुद 12वीं तक पढ़ी है। अन्य संपत्ति के नाम पर उनके पास 3 बकरी, 3 गाय और एक झोंपड़ी है। दोनों पति पत्नी मनरेगा कार्ड होल्डर भी हैं।