केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, 1 अप्रैल से 45 साल से ऊपर के सभी लोग लगवा सकेंगे टीका, सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं
Central government's big decision, from April 1, all people above 45 years will be able to get vaccines, no certificate required

केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, 1 अप्रैल से 45 साल से ऊपर के सभी लोग लगवा सकेंगे टीका, सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं

नई दिल्लीः केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने टीकाकरण को लेकर बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि देश में वैक्सीन की कोई कमी नहीं है।उन्होंने बताया कि 1 अप्रैल से उन सभी को टीका लग सकेगा, जिनकी उम्र 45 साल से ज्यादा है। अभी तक 45 साल से ज्यादा की उम्र के उन्हीं लोगों को टीका लगाया जा रहा था, जो किसी बीमारी से पीड़ित थे, लेकिन अब ऐसा नहीं है। अब उन्हें टीका लगवाने के लिए किसी प्रकार के सर्टिफिकेट को दिखाने की जरूरत नहीं है।

इससे पहले केंद्र सरकार ने 22 मार्च को कोविशील्ड वैक्सीन को लेकर नई गाइडलाइन जारी की थी। इसके मुताबिक कोविशील्ड वैक्सीन के दो डोज के बीच का समय पहले से दो हफ्ते ज्यादा रहेगा। अब तक कोविशील्ड के दोनों डोज के बीच 4 से 6 हफ्ते, यानी 28 से 42 दिन का अंतर रखा जाता था। नए निर्देश के मुताबिक अब यह अंतर 6 से 8 हफ्ते यानी 42 से 56 दिन का होगा। कोवैक्सिन के दो डोज चार हफ्ते के अंतर से ही लगाए जाएंगे।

देश में कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा फेज 1 मार्च से शुरू हुआ था। इस फेज के तहत 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है। इसके साथ ही 45 से 60 की उम्र के ऐसे लोगों को भी वैक्सीन लग रही है, जो गंभीर बीमारियों से जूझ रहे हैं। जिन लोगों की उम्र 60 साल या ज्यादा है, उन्हें रजिस्ट्रेशन और वैक्सीनेशन के वक्त आई कार्ड साथ रखना होगा। 45 से 60 साल के जिन लोगों को गंभीर बीमारी है, उन्हें मेडिकल सर्टिफिकेट दिखाना होगा।