पीएम मोदी ने बांग्लादेश के दूसरे दिन जेशोरेश्वरी काली मंदिर में की पूजा, बोले- मां काली दुनिया को कोरोना से मुक्ति दिलाएं
Worship of PM Modi at Jeshoreswari Kali temple on second day of Bangladesh, said - Mother Kali liberate the world from Corona

पीएम मोदी ने बांग्लादेश के दूसरे दिन जेशोरेश्वरी काली मंदिर में की पूजा, बोले- मां काली दुनिया को कोरोना से मुक्ति दिलाएं

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बांग्लादेश दौरे का शनिवार को दूसरा दिन है। सबसे पहले मोदी ने जशोरेश्वरी मंदिर में काली मां के दर्शन किए। इसके बाद उन्होंने गोपालगंज जिले के तुंगीपारा में बंगबंधु स्मारक पहुंचकर राष्ट्रबंधु के पिता बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान को श्रद्धांजलि अर्पित की। अब वे मतुआ समुदाय के ओरकांडी मंदिर पहुंचे हैं और वहां पूजा-अर्चना की ओराकांडी वहीं जगह है, जहां मतुआ समुदाय के संस्थापक हरिशचंद्र ठाकुर का जन्म हुआ था। मतुआ समुदाय बंगाल चुनाव के लिहाज से भी काफी मायने रखता है। पीएम मोदी का ओराकांडी में मतुआ समुदाय के प्रतिनिधियों के साथ संवाद का भी कार्यक्रम है।

आज दोपहर मोदी प्रधानमंत्री कार्यालय में हसीना के साथ वार्ता करेंगे। इस दौरान पांच समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद है। कुछ परियोजनाओं का भी वह डिजिटल माध्यम से उद्घाटन करेंगे। स्वदेश रवाना होने से पहले वह राष्ट्रपति अब्दुल हमीद से भी मुलाकात करेंगे। मोदी का बांग्लादेश दौरा ऐसे समय में हुआ है जब पड़ोसी देश शेख मुजीबुर रहमान की जन्म शताब्दी ‘‘मुजीब वर्ष’’, देश की आजादी के 50 साल का उत्सव और भारत-बांग्दलादेश संबंधों की स्थापना के 50 वर्ष पूरे होने पर समारोह मना रहा है।

इससे पहले पीएम मोदी ने शुक्रवार को पाकिस्तान का नाम लिए बगैर कहा कि अमानवीय आतंकी गतिविधियों को समर्थन देने वाली ताकतें अब भी सक्रिय हैं और भारत व बांग्लादेश को इनके नापाक इरादों को विफल करने के लिए सवाधान और संगठित रहना होगा। प्रधानमंत्री ने बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान के नेतृत्व और 1971 की बांग्लादेश की आजादी की लड़ाई में भारतीय सेना के योगदान की भी सराहना की। बांग्लादेश की आजादी की स्वर्ण जयंती और शेख मुजीबुर रहमान की जन्म शताब्दी के अवसर पर आयोजित मुख्य समरोह को मोदी संबोधित कर रहे थे।