पश्चिम बंगाल में मतदान के बीच चली गोलियां, चार लोगों की मौत, सीआईएसएफ के जवानों की राइफल छीनने की कोशिश
Bullets in West Bengal during polling, four people killed, CISF personnel trying to snatch rifle

पश्चिम बंगाल में मतदान के बीच चली गोलियां, चार लोगों की मौत, सीआईएसएफ के जवानों की राइफल छीनने की कोशिश

पश्चिम बंगाल/कूचबिहारः बंगाल में विधानसभा चुनावों के मद्देजनर शनिवार को पश्चिम बंगाल में हो रहे मतदान के बीच उपद्रवियों द्वारा झड़प और गोलियां चलाने की खबर आई है। जिसमें करीब 4 लोगों की मौत हो गई है। वहीं उपद्रवियों ने सीआईएसएफ के जवानों से राइफल छीनने की भी कोशिश की हैष

जानकारी अनुसार पश्चिम बंगाल के कूचबिहार जिले के सीतलकूची में सीआईएसएफ ने अपने ऊपर हमले के बाद जवाबी कार्रवाई करते हुए कथित तौर पर गोलियां चलाई, जिसमें चार लोग मारे गए हैं। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि कूचबिहार जिले में शनिवार को स्थानीय लोगों द्वारा हमला किए जाने के बाद सीआईएसएफ ने कथित तौर पर गोलियां चलाई जिसमें चार लोगों की मौत हो गई। ऐसा आरोप है कि स्थानीय लोगों ने सीआईएसएफ जवानों की ‘‘राइफलें छीनने की कोशिश की।’’

पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह घटना सीतलकूची में हुई जब मतदान चल रहा था। उन्होंने बताया, ‘‘प्रारंभिक रिपोर्टों के अनुसार एक गांव में अपने ऊपर हमला किए जाने के बाद सीआईएसएफ जवानों की गोलीबारी में चार लोग मारे गए। वहां झड़प हुई और स्थानीय लोगों ने उनका घेराव कर दिया और उनकी राइफलें छीनने की कोशिश की जिसके बाद केंद्रीय बलों ने गोलियां चलाई। विस्तृत जानकारी की प्रतीक्षा है।” निर्वाचन अधिकारियों ने बताया कि उन्होंने घटना पर जिले के अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी है।

इससे पहले कूचबिहार जिले में एक मतदान केंद्र के बाहर अज्ञात लोगों ने शनिवार को पहली बार वोट डालने आए एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। ये जानकारी भी पुलिस ने दी। तृणमूल कांग्रेस ने आरोप लगाया कि इस हत्या के पीछे भाजपा है जबकि भगवा पार्टी ने दावा किया कि पीड़ित युवक मतदान केंद्र पर पोलिंग एजेंट था और उसने इसके लिए राज्य में सत्तारूढ़ पार्टी को जिम्मेदार ठहराया।