भगौड़े नीरव मोदी को भारत वापस लाने के लिए ब्रिटेन के गृहमंत्रालय ने दी मंजूरी
UK Home Ministry approves to bring fugitive Nirav Modi back to India

भगौड़े नीरव मोदी को भारत वापस लाने के लिए ब्रिटेन के गृहमंत्रालय ने दी मंजूरी

नई दिल्‍लीः पंजाब नेशनल बैंक बैंक के साथ 14,500 करोड़ रुपये के धोखाधड़ी मामले में भगौड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को भारत प्रत्यर्पण की ब्रिटेन गृहमंत्रालय ने मंजूरी दे दी है। इस संबंधी जानकारी देते सीबीआई के एक अधिकारी ने बताया कि ब्रिटेन के गृह मंत्रालय द्वारा भारत लाने की मंजूरी मिलने के बाद नीरव को भारत लाने की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं।

जानकारी अनुसार नीरव मोदी और उसका मामा मेहुल चोकसी सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक के साथ धोखाधड़ी करने के बाद देश छोड़कर भाग गए थे। नीरव मोदी को भारत प्रत्यर्पण करने के लिए इंग्लैंड के होम डिपार्टमेंट में फाइल क्लियर कर दी है। इंग्लैंड की कोर्ट ने सीबीआई के पक्ष में फैसला देते हुए बोला था कि प्रत्यर्पण को लेकर होम डिपार्टमेंट फैसला लेगा, आज होम डिपार्टमेंट ने भी फ़ाइल को क्लियर कर दिया है। अब नीरव मोदी के पास हाईकोर्ट में अपील करने का विकल्प मौजूद है ।

नीरव मोदी लंदन की जेल में है। 11 मई, 2020 को पीएनबी मामले में पांच दिनों के लिए नीरव मोदी के प्रत्यर्पण मामले की सुनवाई ब्रिटेन में शुरू हुई। 7 सितंबर 2020 को ब्रिटेन की अदालत को मुंबई की आर्थर रोड जेल से संबंधित वीडियो मुहैया कराया गया। 8 जनवरी 2021 को ब्रिटेन की अदालत ने नीरव मोदी के प्रत्यर्पण मामले में फैसला सुनाने के लिए 25 फरवरी की तारीख तय की। 25 फरवरी 2021 को ब्रिटेन की अदालत ने कहा कि नीरव मोदी को धोखाधड़ी और धनशोधन के आरोपों का सामना करने के लिए भारत प्रत्यर्पित किया जा सकता है।