जालंधर में सड़क हादसे में घायल युवक ने तोड़ा दम, भड़के परिजनों ने वर्कशॉप चौक स्थित प्राइवेट अस्पताल के बाहर किया हंगामा
Youth injured in road accident in Jalandhar, agitated family created ruckus outside workshop private hospital in workshop

जालंधर में सड़क हादसे में घायल युवक ने तोड़ा दम, भड़के परिजनों ने वर्कशॉप चौक स्थित प्राइवेट अस्पताल के बाहर किया हंगामा

जालंधरः सड़क हादसे में जख्मी हुए सिक्योरिटी गार्ड की मौत से भड़के परिजनों ने जालंधर में वर्कशॉप चौक स्थित प्राइवेट अस्पताल के बाहर जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने सड़क जाम करने की कोशिश की। प्रदर्शनकारियों ने अस्पताल के डाक्टर पर एक्सीडेंट करने वाले आरोपितों के साथ मिलीभगत के आरोप लगाए है।

जानकारी अनुसार, मृतक के गांव से आए सरपंच परमजीत सिंह, गुरमेल सिंह, मृतक के भाई चरणजीत सिंह ने बताया कि जिला मोगा के चक्क सिंह पुरा निवासी बलविंद्र सिंह का वीरवार को शाहकोट के निकट एक्सीडेंट हो गया। बलविंद्र सिंह निजी कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड है।
एक्सीडैंट के पश्चात गाड़ी चालक बलविन्द्र को घायलअवस्था में लेकर दुर्घटनास्थल से जालंधर के वर्कशाप चौक के निकट स्थित अस्पताल ले आया। जहां पर उसकी मौत हो गई । जिसके बाद अस्पताल के स्टाफ ने परिजनों के साथ दुर्व्यवहार किया और हंगामा हो गया।

चरणजीत व अन्य परिजनों का आरोप है कि डाक्टर ने उन्हें बताया कि जिस व्यक्ति ने एक्सीडेंट किया है उसका उन्हें फोन आया है कि वे थाना धर्मकोट में पेश हो चुका है। परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर आरोप लगाए कि अस्पताल स्टाफ ने मृतक को लाने वाले की कोई एंट्री नहीं की। हालांकि उसे लेकर आने वाली गाड़ी सीसीटीवी में कैद हो गई है। वहीं, अस्पताल प्रबंधन ने आरोपों को बेबुनियाद बताया है। उन्होंने कहा कि हादसे में घायल कुलविंदर सिंह को कोई व्यक्ति अस्पताल छोड़ गया था। उन्होंने मृतक के परिजनों को मामले को लेकर पूरा सहयोग देने की बात कही है।