You are currently viewing तेज भूकंप के बाद जापान में सुनामी का खतरा, तटीय इलाके खाली करने का निर्देश

तेज भूकंप के बाद जापान में सुनामी का खतरा, तटीय इलाके खाली करने का निर्देश

तेज भूकंप के बाद जापान में सुनामी का खतरा, तटीय इलाके खाली करने का निर्देश

टोक्यो (न्यूज डेस्क) उत्तर मध्य जापान में (स्थानीय समय) शाम 4:10 बजे 7.4 तीव्रता का भूकंप आया है। इसके बाद जापान के तट पर सुनामी लहरें देखी गईं। भीषण भूकंप के बाद सुनामी के खतरे के कारण जापान के पश्चिमी तट के कुछ हिस्सों में लोगों को तुरंत खाली करने के लिए कहा जा रहा है।

सार्वजनिक प्रसारक एनएचके के हवाले से सोमवार को बताया गया कि जापान मौसम विज्ञान एजेंसी ने इशिकावा, निगाटा और टोयामा प्रान्त के पश्चिमी तटीय क्षेत्रों में सुनामी की चेतावनी जारी की है। एजेंसी के मुताबिक़ करीब पांच मीटर तक ऊंची सुनामी इशिकावा प्रान्त में नोटो तक पहुंच रही है। अमेरिकी एजेंसी के मुताबिक भूकंप केंद्र के 300 किमी के दायरे में जापान तट पर खतरनाक सुनामी की लहरें उठने की संभावना है।

एनएचके की रिपोर्ट के अनुसार इशिकावा प्रान्त में वाजिमा शहर के तट पर एक मीटर से अधिक ऊंची लहरें उठीं। होकुरिकु इलेक्ट्रिक पावर ने कहा कि वह अपने परमाणु ऊर्जा संयंत्रों में किसी भी अनियमितता की जांच कर रहा है। जापान के इशिकावा प्रान्त में स्थानीय स्टेशन से जारी वीडियो में बड़े भूकंप के बीच बेहद शक्तिशाली झटके देखे जा सकते हैं।

रूस ने पश्चिमी तट के कुछ हिस्सों के लिए सुनामी के खतरे की घोषणा की है और निवासियों से जापान में बड़े भूकंप के बाद ऊंचे स्थानों पर चले जाने का आग्रह किया है।

कंसाई इलेक्ट्रिक पावर के एक प्रवक्ता ने बताया कि उसके परमाणु ऊर्जा संयंत्रों में फिलहाल कोई असामान्यता नहीं है लेकिन कंपनी स्थिति पर करीब से नजर रख रही है।